Write a letter to your father asking for permission to visit a historical place In Hindi)

 न्यू एरिया, कल्याण केन्द्र

12 मार्च 2021


पूज्य पिताजी,
सादर प्रणाम,

सकुशल रहकर नित्य आपकी कुशलता की कामना करता हूॅं। दस दिनों बाद हमारी छुट्टियॉं शुरू होंगी। इस अंतराल में विद्यालय की ओर से, नालंदा, राजगीर एवं बोध गया के ऐतिहासिक स्थलों के भ्रमण का कार्यक्रम बना है। बहुत दिनों से मेरे मन में भी इस स्थलों के दर्शन की इच्छा थी। यह यात्रा मेरे ज्ञान को भी बढ़ायेगी। 

कार्यक्रम चार दिनों का है तथा इसके लिए हमें पॉंच सौ रूपये देने पड़ेगे। अत: अपनी अनुमति के साथ उक्त राशि भेजने की की कृपा करेगे। 

मॉं को चरण स्पर्श तथा विजय को शुभाषीश। 

आपका आज्ञाकारी पुत्र

रवि कांत।