Genetics and ecology in Hindi

आनुवंशिक लक्षणों के पीढ़ी-दर-पीढ़ी संचरण की विधियों तथा कारणों के अध्ययन को आनुवंशिकी (Genetic) कहते हैं। आनुवंशिकी का पिता ग्रेगर मेंडल को कहा जाता है। 

सर्वप्रथम जेनेटिक्स शब्द का उपयोग डब्ल्यू. वाटसन ने 1905 ई. में किया गया था।

आनुवंशिकी संबंधी प्रयोग के लिए सर्वप्रथम मेंडल ने मटर के पौधों का चुनाव किया था । 

हीमोफिलिया पुरुषों में पाया जानेवाला आनुवंशिक रोग है जिसमें खून थक्का नहीं बनता ।

आनुवंशिक रोग रंग वर्णान्धता (Colour Blindness) को 1911 में 'विल्सन' ने खोजा था।

इसे 'डाल्टन रोग' भी कहा जाता है। - वर्णांधता रोग में रोगी लाल और हरा रंग नहीं पहचान सकता है। 

रासायनिक दृष्टि से जीन DNA का एक प्रारूप है, इसे आनुवंशिकी की मूल इकाई कहते हैं। गुणसूत्र (Chromosomes) को सर्वप्रथम होफमीस्टर ने 1848 में माइक्रोस्कोप द्वारा देखा था।

गुणसूत्र का नामकरण डब्लू-वाल्डेयर ने 1888 में किया था। 

गुणसूत्र के अंदर DNA प्रोटीन पाया जाता है । जिसे क्रोमैटीन कहा जाता है।

मनुष्य में क्रोमोसोम (गुणसूत्र) की संख्या 46 (23 जोडी) होती है जिसमें 22 जोड़ा समान तथा अंतिम एक जोड़ा असमान होता है। 

DNA की मात्रा को पीको ग्राम में मापा जाता है।

मनुष्य में XY प्रकार के गुणसूत्रों द्वारा लिंग का निर्धारण होता है।

स्त्रियों में लिंग युग्म को xx चिन्ह से तथा पुरुष में XY चिन्ह से प्रदर्शित करते हैं। XX तथा XY विधि की खोज विल्सन व स्टीवेन्स द्वारा की गई। - हेन किंग ने सर्वप्रथम X-गुणसूत्र की खोज की। 

कैंसर उत्पन्न करनेवाली जीन औकोजीन कहलाते हैं। 

जीन शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग जोहान्सन (Johanson) ने 1909 में किया गया । 

पहले कृत्रिम जीन का निर्माण हरगोविन्द खुरान ने 1970 में यीस्ट एलेनीन t-RNA के लिए किया था।

DNA एक आनुवंशिक पदार्थ है, इसका प्रमाण  ग्रिफिथ द्वारा प्रस्तुत किया गया।

मनुष्य में 23वीं जोड़ी के गुणसूत्रों के कारण ही पुरुष और स्त्री का विकास होता है। 

आनुवंशिकी नाम का उपयोग सर्वप्रथम डब्ल्यू वाटसन ने 1905 में किया। 

'गैमिट की शद्धता' के नियम प्रतिपादन मेंडल ने किया था।

प्रयोगशाला में सर्वप्रथम DNA का संश्लेषण हरगोविन्द खुराना ने किया था।

आनुवंशिकी उत्परिवर्तन क्रोमोसोम में होता है।

जब तक जीव द्वारा दो या दो से अधिक भिन्न लक्षणों का नियंत्रण होता है, तो यह घटना प्लिओट्रॉपी कहलाता है। . हृदय का पहला प्रतिस्थापना डॉ. क्रिश्चियन बर्नार्ड द्वारा किया गया था।

पादप एवं जंतुओं को मिलाकर जैविक घटक बनता है। किसी स्थान पर पाये जानेवाले किसी जीव समुदाय का वातावरण से तथा अन्य पारिस्थितिक समुदायों से परस्पर संबंध को पारिस्थितिकी तंत्र (Ecosystem) कहते हैं।

पारिस्थितिक तंत्र शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम टान्सले ने 1935 ई. में किया था। 

पारिस्थितिकीय अनुसंधान एवं प्रशिक्षण केन्द्र बंगलोर में है।

कार्बनिक पदार्थ, अकार्बनिक पदार्थ, जल, ताप, प्रकाश इत्यादि अजैविक घटक है।

रेगिस्तान या स्टेपी में उगनेवाले पौधे की 'जीरोफाइट्स कहा जाता है।

दलदल में उगनेवाला पौधा हीलोफाइट्स कहलाता है। 

ओजोन परत सूर्य से आनेवाली हानिकारक पराबैंगनी किरणों को अवशोषित करता है।

पराबैंगनी किरणों से आँखों तथा प्रतिरक्षी तंत्र को नुकसान पहुंचता है। रेफ्रीजरेटर, अग्निशमन यंत्र तथा ऐरोसोल स्प्रे में उपयोग किए जानेवाले क्लोरोफ्लोरो-कार्बन (CFC) द्वारा ओजोन परत का हास होता है।

अम्लीय वर्षा वायु में उपस्थित नाइट्रोजन तथा सल्फर के ऑक्साइड के कारण होती है।

ग्रीन हाउस प्रभाव के कारण पृथ्वी के तापमान में लगातार वृद्धि हो रही है। ग्रीन हाउस प्रभाव के प्रमुख कारक कार्बन डाइऑक्साइड, सल्फर डाईऑक्साइड आदि गैसे प्रमुख है। 

सामान्य बातचीत का शोर मूल्य 60 डेसीबल होता है।

रेडियाधर्मी पदार्थों के प्रदूषण से ल्यूकमिया व हड्डी का कैंसर रोग उत्पन्न होता है।

रेडियोधर्मी पदार्थों के प्रभाव से मनुष्य की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है।

विश्व पर्यावरण दिवस 5 जून को मनाया जाता है।

प्राथमिक उपभोक्ता शाकाहारी होते हैं और ये सिर्फ पौधे पर ही आश्रित रहते हैं। 

द्वितीय उपभोक्ता मांसाहारी होते हैं जो प्राथमिक उपभोक्ता पर आश्रित होते हैं।

ट्रिटिकेल (Triticate) ऐसा पौधा है, जिसे गेहूँ तथा राई (सिक्कल) के बीच संकरण से प्राप्त किया गया है।

फेंगरप्रिंट की सहायता से संतानों के खोये माता-पिता की जानकारी मिलती है।

राइजोबियम का प्रयोग जैव उर्वरक (Biofertilizer) के रूप में होता है। 

नाइट्रोजन स्थिरीकरण का कार्य करता है।

सूर्य के विकिरण-उर्जा का केवल 1 से 5प्रतिशत तक ही जीवमंडल के उपयोग के लिए उपलब्ध होता है। 'जंपिंग जीन' का सिद्धांत बर्बरा मैक्लिलण्टॉक ने प्रस्तुत किया।

भारत का पहला जैव प्रौद्योगिकी स्थल एर्नाकुलममें है।

1876 ई. में होरनर ने सर्वप्रथम मनुष्यों मेंवर्णान्धता (Colour Blindness) का वर्णन किया। 

जे. ई. पुरकिंजे ने 1839 ई. में सर्वप्रथम जीवद्रव्य (Protoplasm) का प्रयोग किया।

DNA की संरचना को सबसे पहले वाटसन व क्रिक ने रेखांकित किया। . DNA का डबल 'हेलिक्स मॉडल' वाटसन व क्रिक ने दिया।

मनुष्य में पुरुष का Y व स्त्री का X क्रोमोसोम के मिलने से बालक का जन्म होता है। जीव विज्ञान की वह शाखा जिसके अन्तर्गत जीवधारियों उनके वातावरण के पारस्परिक संबंधों का अध्ययन करते हैं, पारिस्थितिकी कहलाता है। 

प्रकाश के द्वारा पौधे प्रकाश-संश्लेषण विधि द्वारा अपना भोजन बनाते हैं। ताप बढने पर पौधों में वाष्पोत्सर्जन क्रिया बढ़ जाती है। वायुमंडलय में जलवाष्प उपस्थिति होने के कारण वायु नम रहती है।

प्रकाश संश्लेषण की क्रिया नीले रंग के प्रकाश में कम तथा लाल रंग के प्रकाश में अधिक होता है।

आर्द्रता का संबंध वाष्पोत्सर्जन से होता है।

वाष्पोत्सर्जन कम होने पर आर्द्रता अधिक होती है।।

जैविक क्रिया के लिए औसतन 10°C से 45°C तक ताप आवश्यक होता है।