Integration of Italy in hindi


19वीं सदी के पूर्वार्द्ध में इटली में 13 राज्य थे।

 इटली के एकीकरण का जनक जोसेफ मेजिनी को माना जाता है। - मेजिनी का जन्म जेनेवा में हुआ था। - इटली के एकीकरण में सबसे बड़ा बाधक आस्ट्रिया था। - इटली के एकीकरण में सार्डीनिया पीडमौंट राज्य ने अगुआई की थी।

इटली की समस्या को काउण्ट कावूर ने अन्तरराष्ट्रीय समस्या बना दिया।

इटली के एकीकरण की तलवार गैरीबाल्डी को कहा जाता है।

इटली के एकीकरण का श्रेय मेजिनी, काउण्ट कावूर और गैरीबाल्डी को दिया जाता है। 'यंग इटली' की स्थापना 1831 ई. में जोसेफ मेजिनी ने की।

गैरीबाल्डी ‘लाल कुरती' नाम से सेना का संगठन किया था।

'कार्बोनरी सोसायटी' का संस्थापक गिवर्टी था।

विक्टर एमैनुएल सार्डिनिया का शासक था।

इटली के एकीकरण की शुरुआत लोम्बार्डी और सार्डिनिया राज्यों के मेल से हुई।

इटली राष्ट्र का जन्म 2 अप्रैल, 1860 ई. को माना जाता है।

1871 ई. में रोम को संयुक्त इटली का राजधानी घोषित किया गया ।

“यदि समाज में क्रांति लानी हो तो क्रांति का नेतृत्व नवयुवकों के हाथ में दे दो" यह कथन जोसेफ मेजिनी का है। 

 इटली का एकीकरण 1871 ई. में काउण्ट कावूर ने किया।

इटली की एकता का जन्मदाता नेपोलियन था।