मेसेडोनिया ने 12 जनवरी 2019 को अपने देश का नाम बदलकर उत्तरी मेसेडोनिया गणराज्य रख लिया है। मेसेडोनिया के इस निर्णय से ग्रीस के साथ उसका पिछले कई वर्षां से चला आ रहा विवाद समाप्त हो गया है। दोनो देशों के मध्य हुई बातचीत से इस निर्णय पर समझौता किया गया। उत्तरी मेसेडोनिया गणराज्य नाम रखे जाने पर यूरोपियन यूनियन संयुक्त राष्ट्र, यूनान एवं अन्य वैश्विक शक्तियों ने मेसेडोनिया के इस कदम का स्वागत किया है। वर्ष 1991 में यूगोस्लाविया से अलग होकर नया देश रिपब्लिक आॅफ मेसेडोनिया बना था। इसके दक्षिण में स्थित ग्रीस के कुछ हिस्सों को भी मेसेडोनिया के नाम से जाना जाता है।इस पर दोनों देशों के बीच विवाद शुरू हो गया था। ग्रीस के उत्तरी क्षेत्र का नाम भी मेसेडोनिया है और सिकंदर भी इसी क्षेत्र का रहने वाला था। इसी वजह से ग्रीस के नागरिक इस नाम को लेकर क्षुब्ध थं। ग्रीस का कहना था कि उसके हिस्से में आने वाला मेसेडोनिया यूनानी संस्कृति का प्रमुख भाग है। एक जैसे दो नामों को होने से लोगों को सही जानकारी प्रदान करने की दिशा में भ्रामक स्थिति पैदा होती।